किडनी ख़राब होने से पहले शरीर देता है यह 5 संकेत, यदि टाइम पर न हो इलाज तो हो सकती है मौत

आज के समय की व्यवस्तता और पैसे कमाने की भागदौड़ में हम खुद पर ध्यान देना तो जैसे भूल ही जाते हैं। आज की इस व्यस्त और भागती-दौड़ती लाइफ में हमारे शरीर को कब नजर लग जाए पता ही नहीं चलता। हमारे शरीर के किस अंग में कब कौन सी बीमारी हो जाए ये यदि हम समय रहते जान ले तो बेहतर होता है नहीं तो हमारे साथ कोई अनहोनी हो जाए पता भी नहीं चलेगा। हमारे शरीर का प्रत्येक अंग हमारे शरीर में अपना एक अलग महत्व रखता ही है और यदि हम बात करें किडनी की तो किडनी हमारे शरीर मे सबसे महत्वपूर्ण स्थान रखती है। किडनी हमारे शरीर में खून का शुद्धिकरण, खानपान अन्न और क्षार का संतुलन, रक्तचाप रक्त कणों और कैल्शियम पर नियंत्रण का काम करती है।

किडनी हमारे शरीर के खून में उपस्थित विकारों को अलग कर साफ करने का काम करती है। खून में उपलब्ध अनावश्यक कचरे को मूत्र मार्ग से विसर्जित करने का उपयुक्त काम भी किडनी द्वारा ही होता है। हमारे शरीर के हानिकारक पदार्थों जैसे यूरिया, क्रिएटिनिन और अनेक प्रकार के अम्लो को भी निकालने के काम करते हैं । किडनी हमारे शरीर में नई लाल रक्त कोशिकाओं को बनाने वाले हार्मोन को भी नियंत्रित करती है।

क्या आप जानते हैं कि हमारे शरीर में मौजूद जहरीले पदार्थ जो खून के माध्यम से हमारी किडनी में आते हैं। किडनी उन सारे हानिकारक तत्व को पेशाब के रास्ते बाहर निकाल देती है। आज हम आपको आपकी किडनी के बारे में ही बताने जा रहे हैं। क्या आपको पता है?? आपके शरीर में दो किडनी होते हैं जो आपके शरीर में एक तरह से फिल्टर का ही काम करती हैं। क्या आप यह बात जानते हैं कि हमारा शरीर 75 परसेंट पानी से निर्मित होता है, हमें जितनी खाने की आवश्यकता होती है उससे कहीं अधिक पानी की आवश्यकता होती है।

आपको बता दें कि हमारे शरीर में दो कि नहीं होती है परंतु यदि दोनों में से खराब हो जाए तो इंसान एक बार भी जिंदा रह सकता है। एक किडनी पर इंसान जिंदा तो रह सकता है,परंतु उसके काम करने की क्षमता घट जाती है,और शरीर में थकान रहती है उसके काम करने की क्षमता उसके शरीर के अनुसार आधी ही रह जाती है। क्या आपको पता है कि किडनी खराब होने से पहले हमारा शरीर कुछ संकेत देता है, जिन्हें समझकर यदि हम समय रहते इलाज करवा ले तो किडनी खराब ना हो। आइए जानते हैं ऐसे ही कुछ संकेतों के बारे में कि हमारा शरीर हमें पहले से क्या संकेत देता है।

सूजन का बढ़ना

किडनी हमारे शरीर के अपशिष्ट बाहर निकालने का काम करती है परंतु यदि किडनी में कोई इन्फेक्शन या परेशानी हो तो वह शरीर से दूषित पानी और नमक को शरीर से बाहर करना बंद कर देता है,जिसके फलस्वरुप पांव, टकना, हाथ और चेहरे पर सूजन आने लगती है। फालतू पदार्थ जमा हो कर शरीर का वजन भी बना देते हैं।

कम यूरिन का आना

शरीर में पानी की कमी मार्केटिंग में इंफेक्शन से कभी-कभी यूरिन में भी प्रॉब्लम आने की संभावना बढ़ जाती है। जिससे यूरिन का कम आना या लाल या गहरे पीले रंग का हो जाता है।

थकान

किडनी में खराबी होने की वजह से हमारे शरीर में असंतुलन आ जाता है क्योंकि किडनी हमारी शरीर में हीमोग्लोबिन के स्तर को संतुलित रखने का काम करती है लेकिन किडनी में खराबी होने से हीमोग्लोबिन का स्तर घटने लगता है जिससे एनिमिया की समस्या होने लगती है ऐसे में थकान महसूस होने लगती है।

भूख कम लगना

जब शरीर में कोई बीमारी हो तो वैसे ही सबसे पहले हमारी भूख कम हो ही जाती है,और किडनी के मामले में शरीर में अपशिष्ट पदार्थ ना निकलने के कारण शरीर में जमा हो जाते हैं, जिससे हमें भूख कम लगने लगती है।

हर समय ठंड का महसूस होना

किडनी खराब होने के कारण शरीर से अपशिष्ट पदार्थ बाहर नहीं निकलते तथा खून की कमी भी होने लगती है, जिससे गर्मी में भी ठंड का आभास होने लगता है।

दिन प्रतिदिन बढ़ती भागदौड़ व खानपान, अनियमितता प्रदूषित जल, तथा बढ़ते फास्ट फूड के ट्रेडं किस दिन प्रतिदिन बीमारियां बढ़ती ही जा रही हैं। यदि हम अपनी दिनचर्या में सुव्यवस्थित ढंग से काम कर खानपान का ध्यान रखें इन बीमारियों से बचाव कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.