होलिका दहन के दिन भूलकर भी न करें ये काम, वरना बहुत पछतायेंगे

जैसे-जैसे तारीख बदल रहे हैं हम होली के काफी नजदीक पहुंच रहे हैं। भारत देश के महान पर्वों में से एक होली रंगों के त्योहार से जाना जाता है। हर कोई होली की तैयारियों में लगा है क्योंकि इस दिन जब पूरा परिवार रंगीन अंदाज में खिलखिला रहा होता है वह समा देखते बनता है। गौरतलब होली की शुरुआत होलिका दहन से होती है और होलिका दहन के पीछे कई प्रथाएं चली आ रही है। शिवरात्रि की रात से ही होलिका दहन की तैयारियां शुरू हो जाती है और गांव के एक छोर पर होलिका दहन की सामग्री इकट्ठा कर लेते हैं वहीं शहर के हर चौराहे पर होलिका दहन की जगह निर्धारित कर दी जाती है। लेकिन आपको होलिका दहन के दिन सावधान भी रहना होगा अब आप सोच रहे होंगे कि त्योहार में कैसी सावधानी? तो बता दें कि वे दिन तंत्र-मंत्र के लिए भी जाना जाता है। ज्योतिषियों के मुताबिक इस रात कई लोगो को सिद्धियां प्राप्त होती है तो कुछ लोगो को नुकसान भी झेलना पड़ता है। परिणाम आपके कर्मो पर निर्भर करता है इसलिए आपके लिए ये जानना बेहद जरूरी है कि उस रात कौन से काम नही करने चाहिए। चलिये जानते हैं कुछ ऐसे काम के बारे में जो होलिका दहन की रात भुलकर भी नही करनी चाहिए।

ज्योतिषशास्त्रों में ऐसा बताया गया है कि होलिका दहन की रात्रि एक तरह से सिद्धियों के लिए जाना जाता है। इस रात कई लोगो के भाग्य खुलते हैं वहीं कुछ लोग जादू-टोटके आजमाकर तांत्रिक क्रियाओं द्वारा दुसरो की क्षति करने से नही चूकते। होलिका दहन में आपको दूसरों के इन प्रभावी लक्षणों से बचकर रहना होगा इसलिए आज की कड़ी में हम उन बातों पर चर्चा करेंगे जिन्हें लेकर हर किसी को सावधान रहने की जरूरत है। बता दें कि उन कामो पर नियंत्रण कर आप भी ऐसी तांत्रिक क्रियाओं से खुद को बचा सकते हैं। जानिए आगे…

गर्भवती महिलाओं के लिए जरूरी काम

आपको जानकर ताज्जुब होगा कि तांत्रिक क्रियाओं का असर गर्भवती महिलाओं पर जल्दी होता है इसलिए उन्हें ऐसी क्रियाओं से दूर रहना होगा। ज्योतिषशास्त्रों में बताया गया है कि इस रात गर्भवती महिला को घर से बाहर नही निकलना चाहिए। इसके साथ ही इस बात का ध्यान रखें कि कोई कुछ खाने-पीने को दें तो उसे ग्रहण नही करना चाहिए।

सफेद रंग के वस्तुओं से बनाएं दूरी

आपने हमेशा जादू-टोने में लाल और काले रंग के उपयोग के बारे में सुना होगा। लेकिन आपको जानकर आश्चर्य होगा कि होलिका दहन की रात्रि सफेद रंग से टोटके किये जाते हैं इसलिए ध्यान रखें कि इस दिन सफेद रंग की वस्तुओं से दूरी बनाए रखें। इस दिन दूध या पनीर भूलकर भी नही खाना चाहिए।

बाहर निकलते समय रखें ध्यान

ऐसा बताया गया है कि होलिका दहन में किये जाने वाले टोटकों का असर मस्तिष्क और सिर के रास्ते होता है। इसलिए यदि आप इस रात्रि बाहर निकलते हैं तो सर को ढककर ही निकलें।

कपड़ों पर रखें ध्यान

आपको पता होना चाहिए कि आपके तन पर रहे कपड़े के टुकड़ों की मदद से भी टोटके किये जा सकते हैं इसलिए भूलकर भी कपड़ों के टुकड़े बाहर न छोड़ें।

अनजान वस्तुओं से दूरी

इस दिन बाहर पड़ी किसी भी ऐसी अनजान चीज़ को हाथ नही लगाना चाहिए जिसके बारे में आपको नही पता हो या वो आपकी नही हो। क्योंकि उसकी मदद से तांत्रिक प्रक्रिया भी की जा सकती है।

हालांकि शास्त्रों में ये भी बताया गया है कि होलिका दहन से 5 दिन पहले और 5 दिन बाद तक कोई भी शुभ कार्य नही कर्मी चाहिए। ऐसे मांगलिक कार्यों में बाधा उत्तपन्न होने के साथ-साथ नुकसान की सम्भावना बढ़ जाती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.